57 हिताधिकारियों के लिए स्वीकृत हुई रू. 2.85 करोड़ की धनराशि,बेवा रेनू कुमारी की उम्मीदों पर खरे उतरे डीएम डॉ. दिनेश चन्द्र  

बहराइच। जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाागार में आयोजित बैठक के दौरान मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना अन्तर्गत 56 तथा किसान सर्वहित बीमा योजना अन्तर्गत 01 कुल 57 दावों का निस्तारण करते हुए कुल रू. 02 करोड़ 85 लाख की धनराशि की स्वीकृति प्रदान की गई। बैठक के दौरान डीएम डॉ. चन्द्र ने बीमा कम्पनी को निर्देश दिया कि सभी हिताधिकारियों के खातों में समयबद्धता के साथ धनराशि का अन्तरण करा दिया जाए।
उल्लेखनीय है कि किसान सर्वहित बीमा योजना से सम्बन्धित 01 दावा जिसे बीमा कम्पनी न्यू इण्डिया इंश्योरेंस लि. द्वारा स्वीकार नहीं किया गया था। इस प्रकरण में मृतक हीरा लाल उर्फ शिव नरायन की निर्धन पत्नी श्रीमती रेनू कुमारी नि. पंडितपुरवा, दा. हैबतपुर, तहसील कैसरगंज ने हार नहीं मानी और कैसरगंज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्रार्थना-पत्र प्रस्तुत कर न्याय की गुहार लगाई। डीएम डॉ. दिनेश चन्द्र ने भी गरीब बेवा को निराश नहीं किया और चिर-परिचित शैली में कार्य करते हुए प्राप्त प्रार्थना-पत्र का कड़ा संज्ञान लेते हुए तत्काल तहसील प्रशासन से आख्या प्राप्त कर तद्नुसार प्रकरण को पुनः स्वीकृत करते हुए बीमा कम्पनी को सख्त हिदायत दी गई है कि हिताधिकारी को 15 दिवस में भुगतान करना सुनिश्चित करें।
बैठक के दौरान डीएम डॉ. चन्द्र ने समस्त तहसीलों को निर्देश दिया है कि मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना व किसान सर्वहित बीमा योजना के तहत प्राप्त होने वाले दावों में अनावश्यक विलम्ब न किया जाए। दावों से सम्बन्धित अपेक्षित कार्यवाही समयबद्धता के साथ पूर्ण की जाए ताकि कोई भी प्रकरण कालातीत न होने पाए और हिताधिकारियों को समय से भुगतान सुनिश्चित हो सके।
इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी अवधेश कुमार मिश्र, उप जिलाधिकारी सदर सुभाष सिंह धामी, कैसरगंज के महेश कुमार कैथल, महसी के रामदास, पयागपुर के दिनेश कुमार, तहसीलदार मिहींपुरवा डॉ. सुनील कुमार, नानपारा के पीयूष श्रीवास्तव सहित बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि तथा पटल सहायक मौजूद रहे।