पुलिस कांस्टेबल गोकलेश की निर्मम हत्य..."> पुलिस कांस्टेबल गोकलेश की निर्मम हत्य...">

पुलिस कांस्टेबल गोकलेश की निर्मम हत्या का आरोपी सम्पतसिंह को मध्यप्रदेश से किया गिरफ्तार

पुलिस कांस्टेबल गोकलेश की निर्मम हत्या का आरोपी सम्पतसिंह को मध्यप्रदेश से किया गिरफ्तार

पुलिस टीमों की लगातार कॉम्बिंग तथा एनकाउन्टर के भय से आरोपी जा छुपा था मध्यप्रदेश

करौली / मदन मोहन भास्कर । पुलिस अधीक्षक करौली मृदुल कच्छावा ने बताया कि 25 अप्रैल को थाना मण्डरायल पर तैनात कांस्टेबल गोकलेश के सिर पर पत्थर मारकर की गई निर्मम हत्या का आरोपी सम्पतसिंह पुत्र बहादुर सिंह राजपूत निवासी जाखौदा थाना मण्डरायल को मध्यप्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने मंगलवार को प्रेस वार्ता कर घटना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गोकलेश व रनवीरसिंह राज्य सरकार द्वारा देश में बढते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कस्बा मण्डरायल में शादी समारोह में कोरोना गाईड लाईन की पालना करा रहे थे। रनवीरसिंह कुछ समय पूर्व आगे चला गया तथा गोकलेश शिवम् मेडीकल स्टोर पर पानी पीने के लिए रूक गया। गश्त के दौरान प्रहलाद सिंह सहायक उप निरीक्षक को सूचना मिली कि सब्जी मण्डी के पास राधारानी मार्केट में शिवम् मेडीकल स्टोर के पास गोकलेश के साथ सम्पतसिंह पुत्र बहादुरसिंह राजपूत निवासी जाखौदा ने बुरी तरह से मारपीट की है जो मौके पर घायल अवस्था में पडा हुआ है। उक्त सूचना पर तत्काल सहायक उप निरीक्षक प्रहलाद सिंह जाप्ता के साथ मौके पर पहुँचे तो खून से लथपथ पडा हुआ मिला जो मृत अवस्था में था। प्रकरण की गम्भीरता को देखते हुए महानिरीक्षक पुलिस भरतपुर प्रसन्न कुमार खमेसरा एवं पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा द्वारा घटना स्थल का रात्रि के समय ही निरीक्षण किया गया एवं गत 30 अप्रैल को करौली भम्रण के दौरान सुनील दत्त अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस राजस्थान जयपुर द्वारा उक्त प्रकरण में वांछित आरोपी की यथा सम्भंव शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
पुलिस अधीक्षक करौली मृदुल कच्छावा द्वारा स्वयं के सुपरवीजन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश चन्द के निर्देशन में वृताधिकारी करौली मनराज मीना के नेतृत्व में थानाधिकारी सपोटरा बनवारीलाल मीना, थानाधिकारी सदर करौली अमित कुमार शर्मा, थानाधिकारी लांगरा भंवरसिंह कर्दम, ए.डी.एफ. टीम प्रभारी रामवीरसिंह, जिला स्पेशल टीम करौली रविन्द्रसिंह हैड कांस्टेबल एवं घनश्याम प्रभारी साईबर सैल करौली व चुनिन्दा पुलिसकर्मियों की पाँच पुलिस टीमों का गठन कर आरोपी को शीघ्रातिशीघ्र गिरफ्तार करने के आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

किस प्रकार वारदात को अंजाम दिया

आरोपी सम्पतसिंह गोकलेश से पूर्व से रंजिश रखता था बारदात को अंजाम देने के लिए आरोपी द्वारा गमछे (स्वाफी) में पत्थर बांध कर पीछे से सिर पर वार किया जिससे गोकलेश अचेत होकर नीचे गिर गया इसके उपरान्त आरोपी द्वारा पत्थर से सिर तथा मुॅह पर ताबड-तोड वार कर सिर तथा मुँह बुरी तरह से कुचल दिया जिससे गोकलेश की मौके पर ही मृत्यु हो गई।

टीम द्वारा किये गये प्रयास-

गठित पुलिस टीमों द्वारा दिन रात कडी मेहनत कर घटना से सम्बंधित सी.सी.टी.वी. फुटेजों को एकत्रित कर बारीकी से निरीक्षण जाकर हत्या में शामिल आरोपी को चिन्हित किया गया तथा साईबर सैल की मदद से आरोपी के धरपकड के प्रयास जारी रहे। आरोपी की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीमों द्वारा दिन-रात कॉम्बिग कर छुपे होने के सम्भावित स्थानों/शरण देने वालों के ठिकानों गॉव जाखौदा, चैनापुरा, पसेला, पसेलिया, राजपुर, बागौरियापुरा, कोट, धौरेटा, तीन पोखर, मारकाकुआ, बागपुर, मण्डरायल घाटी, चन्देलीपुरा घाटी, टपका की खोह, धमनियॉ की खोह एवं चम्बंल के बीहडों तथा जिला धौलपुर, दौसा में दविश दी गई। पुलिस टीमों द्वारा लगातार दी जा रही दविशों से आरोपी घबराकर पड़ौसी मध्यप्रदेश में चला गया। इस पर जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा एक पुलिस टीम 2 मई को मध्यप्रदेश को रवाना की गई। टीम द्वारा जिला मुरैना, ग्वालियर, भिण्ड, में मुलजिम सम्पतसिंह के रिश्तेदारों एवं मिलने जुलने वालों तथा अन्य सम्पर्क सूत्रों के वहाँ लगातार दविशें दी गई। 3मई को मुखबिर की सूचना पर आरोपी सम्पतसिंह पुत्र बहादुर सिंह को गाँव तुकेडा जिला भिण्ड मध्यप्रदेश से गिरफ्तार कर लिया गया।

स्वीकार की गई वारदात

आरोपी सम्पतसिंह ने बताया कि मेरे द्वारा किये जा रहे अवैध कार्य तथा कारोबार पर गोकलेश द्वारा अंकुश लगाने के कारण मैं बडा परेशान व क्षुब्ध था, मैंने सोच लिया था कि चाहे कुछ भी हो जाये मैं इस गोकलेश को ठिकाने लगा के रहूंगा। 25अप्रैल को रात के समय मुझे गोकलेश शिवम् मेडीकल स्टोर पर पानी पीते हुए दिख गया गोकलेश को अकेला पाकर मैंने पीछे से अंगोछे में बधे हुए पत्थरों से उसके सिर वार किया जिससे वह नीचे गिर गया फिर मैंने गोकलेश पर पत्थर से ताबडतोड वार कर सिर को कुचल दिया।

अरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम

वृताधिकारी करौली मनराज मीना के नेतृत्व में पुलिस टीम बनवारीलाल थानाधिकारी सपोटरा,
अमित कुमार शर्मा, थानाधिकारी सदर करौली,भंवरसिंह कर्दम थानाधिकारी लाँगरा,रामवीरसिंहप्रभारी ए.डी.एफ.,घनश्याम प्रभारी साईबर सैल करौली,
रविन्द्रसिंह,मनीष कुमार,पुष्पेन्द्र सिंह
आदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।
आरोपी की गिरफ्तारी में जिला स्पेशल टीम करौली रविन्द्र सिंह हैड कांस्टेबल व उनकी टीम की सराहनीय भूमिका रही है। टीम के सदस्यों को पुलिस अधीक्षक करौली द्वारा पुरूस्कृत किया जायेगा।