चांगोरी सेन समाज भवन का लोकार्पण  कार्यक्रम में पहुचे - ओंकार साहू        

धमतरी:- धमतरी विधायक ओंकार साहू सेन समाज धमतरी महिमा सागर वार्ड के लोकार्पण कार्यक्रम में शिरकत किये l साथ में सेन समाज के सामाजिक बंधुओ से मुलाकात किये l धमतरी विधायक ओंकार साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि सेन समाज के बिना किसी भी समाज का काम नहीं चल सकता है | धमतरी विधायक ओंकार साहू नें बताया की नाई शब्द कि उत्पत्ति संस्कृत के नाय शब्द से हुई हैं जिसका अर्थ हैं न्याय इस तरह सेन समाज जो है सबको न्याय देने वाला समाज है |

अगर हम सेन समाज के महत्व की बात करें तो भगवान शिव पार्वती की विवाह भी सेन समाज नें ही करवाया था |भगवान शंकर मां पार्वती का विवाह भी नाई समाज ने ही करवाया था। संत शिरोमणि सेन महाराज जी राजा के यहां नाई का काम करते थे। एक दिन संतों के साथ वह ईश्वर भक्ति में ऐसे लीन हुए कि राजा के यहां जाना भूल गये। सेन महाराज की भक्ति देखकर भगवान स्वयं उनका रूप धारण कर उनका कार्य करनें राजा के यहां चले ।यह भक्त और भगवान के बीच के रिश्ते का अद्भुत उदाहरण सेन समाज के इतिहास में देखने को मिलता है | जब संत शिरोमणि महाराज जी को पता चला कि आज मेरे जगह भगवान राजा के यहां नाई का काम करने आये थे तों आश्चर्यचकित हो गया और कुछ समझ नहीं पाया | लेकिन एक बात उनके समझ में आ गई की प्रभु को मेरे अनुपस्थिति में नाई का रूप धारण करना पड़ा | फिर उन्होंने भगवान के चरण कमल का ध्यान किया और मन ही मन प्रभु से क्षमा मांगा l

फिर वह राजमहल गया |

धमतरी विधायक साहब ने बताया कि शिरोमणि स्वभाव से विनम्र, दयालू और ईश्वर में दृढ़ विश्वास रखते थे | संत शिरोमणि महाराज गृहस्ती जीवन के साथ-साथ भक्ति के मार्ग पर भी चलाते रहे और जनमानस को शिक्षा और उपदेश के माध्यम से एकरुपता में फिरोया |विधायक जी नें बताया कि संत शिरोमणि देखते देखते प्रभावशाली हो गए जिससे जन समुदाय स्वत: ही उनके ओर खींचा चला आता था | इस तरह धमतरी विधायक नें बताया कि संत शिरोमणि महाराज सेन समाज का गौरव है | सेन समाज की इस लोकार्पण कार्यक्रम में धमतरी विधायक ओंकार साहू, धमतरी नगर निगम के महापौर विजय देवांगन, पूर्व पीसीसी सचिव आनंद पवार, धनसिंग सेन जिला अध्यक्ष सेन समाज, दीपक सोनकर पार्षद, राजेश पांडे पार्षद , कमलेश सोनकर पार्षद, भगवती राम शांडिल्य जिला सचिव , संतोष कौशिक प्रवक्ता, बसंत कौशिक चांगोरी सेन समाज अध्यक्ष, लालाराम भारद्वाज उपाध्यक्ष सेन समाज, खेमलाल, पवन कौशिक, नीलकमल भारद्वाज, योगेश कौशिक, श्रीमती उत्यांनी, प्रभा कौशिक, उषा कौशिक, श्री मति सेवती कौशिक साथ में बड़ी संख्या में सेन समाज की मातृ शक्ति एवं सेन समाज के लोगों की उपस्थित रही |