आन लाइन उपस्थिति के विरोध में शिक्षकों ने की बैठक

अमेठी ।मंगलवार को अमेठी जिले के भादर ब्लाकमें शिक्षकाें की बैठक प्राथमिक विद्यालय दुर्गापुर में सम्पन्न हुई। जिसमे शासन द्वारा प्रस्तावित डिजिटलाइजेशन उपस्थिति के कारण शिक्षक असहज और व्यथित है। जिसके कारण शिक्षकों में उपजे व्यापक असंतोष से आंदोलित हो गए है। ब्लॉक के लगभग समस्त आक्रोशित शिक्षक/ शिक्षिका द्वारा लगातार इस संघर्ष में संघ से अनुरोध किया जा रहा है।क्षेत्रो से शिक्षक बन्धु दूरभाष पर सम्पर्क स्थापित कर रहे है। शिक्षकों के इस ऑनलाइन उपस्थिति के संघर्ष में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ब्लॉक इकाई भादर की कार्यसमिति एव संघर्ष समिति के पदाधिकारियों की बैठक ब्लाक अध्यक्ष कृष्ण कुमार पाठक की अध्यक्षता में की गई। बैठक को सम्बोधित करते हुये k के पाठक ने कहा कि ऑनलाइन उपस्थिति देने का विरोध शिक्षक नही कर रहा है अपितु ऑनलाइन उपस्तिथि से विभिन्न प्रकार के संकट और कठिनाई है। उस समस्या में सुधार करके निराकरण करने अनुरोध लगातार करता चला आ रहा है। शिक्षकों की तमाम सेवा शर्तों को पूरा किये बिना ऑनलाइन उपस्थिति व्यवस्था सफल हो पाना असंभव है।शिक्षकों की ऑनलाइन उपस्तिथि को लेकर जिस प्रकार से शिक्षकों को प्रताड़ित करने का नियम लागू किया जा रहा है ।शिक्षकों को अपनी बात रखने को भी विरोध की संज्ञा दी जाती है और विभाग ने हाफ CL बन्द कर दिया टेबलेट /ऑनलाइन उपस्थिति बिना मांगे दिया और हाफ आकस्मिक अवकाश,30 ई एल मांगने पर नही दी जा रही है। अगर विद्यालय समय में अध्यापक या फिर अध्यापक परिवार का सदस्य कोई अचानक बीमार हो जाये तो वह हाफसी एल लेकर इलाज भी नही करवा सकता।ऑनलाइन हाजिरी तभी शुरू होनी चाहिए जब 30 ई एल और हाफ सी एल की व्यवस्था की जाए वरना शिक्षकों की 14 सी एल तो ग्रामीण क्षेत्रो की बरसात और कोहरे की दुर्घटनाओं की भेंट चढ़ जाएगी।उपरोक्त वर्णित तथ्यों में सुधार के लिए संगठन शासन से निरन्तर अनुरोध करता रहा किन्तु अद्दतन शासन और विभाग से कोई सार्थक और अपेक्षित परिणाम नही आए।शिक्षकों के हितों के संरक्षण के लिए संघ कृत संकल्पित है ।अतएव संघ अपने शिक्षको के साथ पूरी ऊर्जा और निष्ठा से शिक्षकों के सेवा शर्तों में अपेक्षित सुधार न होने और विभाग द्वारा शिक्षकों पर अव्यवहारिक ,दमनकारी नीति अपमानजनक आदेश थोपे जाने के कारण संघ की संवैधानिक विधा में दृढ़तापूर्वक विरोध प्रदर्शन और ज्ञापन करेगा।इसके लिए संघ चरणबद्व एव योजनाबद्ध ढंग से संघर्ष करने को तैयार है। मंगलवार की कार्यसमिति की बैठक के बाद 11 और 12 जुलाई को ब्लॉक क्षेत्र के सभी अध्यापक अपने अपने बी आर सी केंद्रों पर अपराह्न 2 बजे ऑनलाइन उपस्तिथि के आदेश को वापस लिए जाने के लिए रजिस्टर पर हस्ताक्षर करके सहमति अथवा असहमति देगे।इस मौके पर जिला मंत्री अरुण सिंह,राम जतन अध्यक्ष संघर्ष समिति भादर, ललित नारायण तिवारी , शरद पांडेय, प्रशांत सिंह मंत्री, सुरज सिंह,राजित राम, विजय मिश्रा, नागेन्द्रशुक्ला,रवि मिश्र, अतुल मिश्र,बच्चाराम वर्मा,जय प्रकाश तिवारी,विजय शंकर सिंह, सुनील वरनवाल,राजेंद्र कुमार ,जय प्रकाश मिश्र, तीर्थ राज वर्मा, वृजेश,अंजनी,दिलीप कुमार अखिलेश, आशीष, इत्यादि मौके पर मौजूद रहे।