अररिया नगर परिषद के द्वारा आगामी 3 फरवरी को मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम समाधान यात्रा को लेकर मंगलवार को शहर के बस स्टैंड से लेकर अररिया कॉलेज तक सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराया

अररिया नगर परिषद के द्वारा आगामी 3 फरवरी को मुख्यमंत्री के संभावित कार्यक्रम समाधान यात्रा को लेकर मंगलवार को शहर के बस स्टैंड से लेकर अररिया कॉलेज तक सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराया। इससे सड़क किनारे दुकान चला रहे फुटकर दुकानदार में बीच बेचैनी का माहौल देखा गया। अभियान के दौरान नगर परिषद के कर्मी सहित नगर थाना से दर्जनों पुलिस के जवान शामिल थे। इस दोरान सड़क किनारे लगी गुमटियों, कपड़ा व चाय नाश्ते की दुकानों को हटाया गया। हालांकि अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान स्थायी दुकानदारों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा।

क्या कहते हैं कार्यपालक अभियंता

अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान नगर परिषद के टीम के साथ बस स्टैंड में फुटकर दुकानदारों के बीच नोंकझोंक भी हुई। वहीं अतिक्रमण के दौरान जाम लगने से बस स्टैंड के दोनों साइड राहगीर जाम में फंसे रहे। वहीं नगर परिषद के इस कार्रवाई के दौरान नाला पर बने दुकानों के आगे रखे बेंच, टेबल रेहड़ियों व अन्य सामान को कब्जे में ले लिया गया। बता दें कि नगर परिषद के द्वारा लगातार शहर के मुख्य चौक चौराहे पर अतिक्रमण अभियान चलाया जाता। वही जानकारी देते हुए नगर परिषद के कार्यपालक अभियंता भावेश कुमार ने बताया कि अतिक्रमण किये हुए दुकानदारों को बार-बार मेकिंग के जरिए निर्देश देकर दुकान को हटाने कहा गया था, लेकिन बार-बार मेकिंग कराने के बाद भी दुकान को नहीं हटाए जाने के कारण मंगलवार को पूरी सख्ती के साथ अतिक्रमण अभियान चलाया गया और अतिक्रमण में सड़क पर फैले सामान को ट्रैक्टर ट्रॉली में लोड कर नगर परिषद कार्यालय भेज दिया गया। जहां चालान जमा कर लोग अपने अपने सामानों को ले जा सकते हैं।