भारतीय पत्रकार महासभा ने पीएम व सीएम के नाम जिला कलेक्ट्रेट को सौपा ज्ञापन

पत्रकार उत्पीड़न, फर्जी मुकदमे सहित टोल फ्री, सरकारी बीमा, आवास जैसे तमाम मुद्दों पर सौंपे गये ज्ञापन में मांग

लखनऊ।भारतीय पत्रकार महासभा की संभाग व प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में पत्रकार उत्पीड़न से लेकर अन्य पत्रकार संबंधी मांगों को दर्शाया गया है। भारतीय पत्रकार महासभा प्रदेश अध्यक्ष नईम अली ने बताया कि आज के ज्ञापन में सरकार से मांग की गई है जिसमे प्रदेश में पत्रकारों के ऊपर जानलेवा हमले हो रहे है इसको रोकने के लिए ठोस कानून बनाया जाए। एवं पत्रकारों द्वारा जब किसी नेता या अधिकारी के भ्रष्टाचार को उजागर करता है तो संबंधित पत्रकार के ऊपर दबाव डालने के लिए झूठे मुकदमे दर्ज करवाए जाते हैं वही डराया धमकाया जाता है। ऐसे मामलों में पत्रकारों के ऊपर दर्ज झूठे मुकदमे वापस लिए जाएं। उन्होंने ज्ञापन में मांग की है कि पत्रकारों के समस्त टोल नाका फ्री किए जा जाए साथ ही पत्रकारों का 1 करोड़ का निशुल्क सरकारी बीमा किया जाए। इसके साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में पत्रकार कॉलोनी आवंटित कर पत्रकारों को भूमि उपलब्ध करवाई जाए वही प्रदेश के समस्त पत्रकारों सहित इनके परिवार को निशुल्क मेडिकल सुविधा उपलब्ध करवाई जाए उन्होंने कहा पत्रकारों के बच्चों को शिक्षा में विशेष छूट देनी चाहिए, राज्य सरकार के अधिकारी कर्मचारियों को मिलने वाली छूट के समान लाभ भी प्रदेश के समस्त पत्रकारों को मिलना चाहिए। प्रदेश के समस्त पार्किंग में पत्रकारों को छूट मिलने सहित अन्य मांगों को लेकर जिला कलेक्ट्रेट को एक ज्ञापन सौंपा। इस दौरान भारतीय पत्रकार महासभा के प्रदेश प्रवक्ता राजेश खोईवाल प्रदेश महासचिव राहुल शर्मा संभागीय अध्यक्ष राहुल माथुर, संभागीय प्रवक्ता रिहाना अंसारी, जिलाध्यक्ष शैलेंद्र कुमार शर्मा, बूंदी जिला अध्यक्ष कमलेश बातकी, उपाध्यक्ष महावीर सह उपाध्यक्ष रामविलास वैष्णव, जिला कार्यालय मंत्री हुकमचंद मेवाड़ा, जिला संगठन मंत्री रोहित प्रजापत, शाहनवाज कुलदीप सिंह मनीष राठौर साहिबा साबिर हुसैन, सहित अन्य पत्रकार मौजूद रहे।