बालू व्यवसायी की बाईक से दुर्घटना में मौत


नगरा बलिया। थाना क्षेत्र के देवढिया निवासी 45 वर्षीय बालू व्यवसाई रविवार को प्रातः नगरा बेल्थरारोड मार्ग पर मोहम्मदपुर मोड़ के समीप सड़क किनारे गड्ढे में घायलावस्था में मिले। सूचना पर पहुंची पुलिस उन्हें पीएचसी नगरा पहुंचाई, जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बालू व्यवसाई की मौत से परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु बलिया भेज दी है।
नगरा थाना क्षेत्र के देव ढिया निवासी 45 वर्षीय बालू व्यवसाई धर्मेन्द्र यादव शनिवार की रात में मालीपुर स्थित अपने रिश्तेदारी में निमंत्रण पर गए थे और घर नहीं लौटे। परिजन रात में धर्मेंद्र के मोबाइल पर फोन करते रहे लेकिन मोबाइल रिसीव नहीं किए। रविवार को प्रातः काल नगरा बेल्थरारोड मार्ग पर मोहम्मदपुर के समीप सड़क के किनारे गड्ढे से मोबाइल बजने की आवाज आने पर अज्ञात लोगों का ध्यान उधर गया तो देखा कि बालू व्यवसाई मरणासन्न अवस्था में गड्ढे में पड़ा है। ग्रामीणों ने उसी के मोबाइल से परिजनों को घटना की सूचना दी। इसके बाद परिजन पुलिस को सूचना देने के साथ ही घटना स्थल पर पहुंच गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अचेतावस्था में पड़े बालू व्यवसाई को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नगरा पहुंचाई, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। कयास लगाया जा रहा है घर लौटते समय रात को किसी अज्ञात वाहन ने बालू व्यवसाई को धक्का मार दिया जिससे वो बाइक सहित गड्ढे में गिरकर गम्भीर रूप में घायल हो गया। बाइक भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। बालू व्यवसाई की मौत की सूचना पर थाने पर भारी भीड़ जुट गई। परिजन भी रोते बिलखते थाने पर पहुंच गए। घटना की जानकारी मिलते ही क्षेत्राधिकारी रसड़ा शिव नारायण बैंस ने थाने पहुंचकर जानकारी हासिल की। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु बलिया भेज दिया। उधर मृतक का भतीजा शैलेन्द्र यादव हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस को तहरीर दी है।

रिपोर्ट कृष्णा शर्मा