मौनी अमावस्या पर हुए आयोजन कर संगठन पर विचार किया

रिपोर्ट । कृष्णा शर्मा

रसड़ा बलिया। मौनी अमावस्या 21 जनवरी शनिवार को श्रीनाथ बाबा मठ के प्रांगण में स्थित श्री विश्वकर्मा मंदिर रसड़ा पर लखेश्वर विश्वकर्मा सेवा समिति रसड़ा द्वारा आयोजित प्रत्येक अमावस्या को होने वाला भगवान विश्वकर्मा की पूजा हवन के साथ खिचड़ी सह भोज का कार्यक्रम संपन्न हुआ। ज्ञातव्य हो कि सुबह भगवान विश्वकर्मा के पूजा की गई आहुति दी गई और शाम को खिचड़ी सहभोज कार्यक्रम से पहले समिति के सभी जनों के साथ एक बैठक हुई बैठक में वक्ता डॉ जी सी शर्मा ने खिचड़ी महत्व को समझाते हुए कहा कि जैसे खिचड़ी में अनेक तत्व मिलकर एक विशिष्ट स्वाद आहार का रूप देती है उसी तरह अन्य -अन्य विचारों के लोग एक साथ मिलकर एक संगठन का रूप देते हैं।व्यक्तिगत रूप से कोई कितना हो धनवान व बलवान हो पर संगठन के आगे को छोटा ही होता है।संगठन का प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से लाभ मिलता है इसलिए हम सभी को संगठित होकर कार्य करना चाहिए बैठक को सर्वश्री प्रेम शर्मा,दिनेश शर्मा,हंसदेव शर्मा, पुर्व प्रधान कमलेश शर्मा, सुनील कुमार 'सरदासपुरी' ने संबोधित किया बैठक किया। उपस्थित सभी बंधुओं का सहृदय आभार प्रकट किया उसके बाद सभी प्रेम से खिचड़ी रुपी प्रसाद ग्रहण कर अपने गंतव्य को भी सह भोज कार्यक्रम में मुख्य रूप से दिनदयाल शर्मा,छोटे लाल शर्मा,अखिलेश शर्मा, पुर्व प्रधान रामजी शर्मा, ओमप्रकाश शर्मा, सीताराम शर्मा,पुजारी हरिद्वार शर्मा,भुनेश्वर शर्मा,बलवीर शर्मा स्वामीनाथ शर्मा, राजेश शर्मा, डाक्टर ओमप्रकाश शर्मा, राजहंस शर्मा इत्यादि सैकड़ों विश्वकर्मा बंधु शामिल रहे