रात बिना घर के खुले आसमान के नीचे सोने वाले जरूरतमंद लोगों को राहत सामग्री वितरित की सामग्री


सर्द रात बिना घर के खुले आसमान के नीचे रहने वाले बेसहारा लोगो को नीव संस्था द्वारा रात्रि में कम्बल बाटे गए

मौसम दुबारा बहुत सर्द हो गया है तेज हवाएं चल रही है जिससे घर में रहने वाले लोग मुश्किल से जिंदगी जी पा रहे है परंतु जीके पास घर ही नही है और खुले आसमान के नीचे ही अपनी राते गुजारनी पड़ती है उनके लिए ये सर्दी बहुत परेशानी लेकर आती है। अतः नींव संस्था के स्वयंसेवको ने बिना देर किए ही रात में घर से निकले और बेघर लोगो को गरम कम्बल बाटें । मेरठ के नानकचंद कॉलेज से लेकर बस अड्डे तथा कैंट रेलवे स्टेशन, रजबन तक रस्ते में खुले असमान के नीचे सोने वाले रिक्शे वाले , गरीब मजदूर , बेसहारा लोगो को जब गरम कम्बल दिए गए। कुछ परिवार सड़क के किनारे बैठ कर ही रात बिता रहे थे, कुछ रिक्शे वाले अपने रिक्शे पेर ही सने को मजबूर थे ,कम्बल पाकर उन्हें सर्दी से राहत मिली। सभी ने नींव के स्वयंसेवको को साधुवाद दिया । नीव संस्था समय समय पर वर्ष वर्ष भर खुले असमान के नीचे रहने वाले लोगो को गरम कम्बल और कपडे वितरित करती रहती है | इस पुनीत कार्य में नीव संस्था के अध्यक्ष श्री हरिदत्त वर्मा , राष्ट्रीय समन्यक डॉ0 उपदेश वर्मा,चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से डॉ0 धर्मेंद्र प्रताप जी, मनीष मिश्र जी इत्यादि ने भाग लिया | नीव संस्था के पदाधिकारियों ने ये प्राण भी किया की इन सर्द रातों में रस्ते में रहने वाले सभी व्यक्तियों व परिवारों को सर्दी से बचने हेतु समय समय पर वस्त्र वितरण कार्यक्रम भी आगे कराए जायेगे।

आपका

*Dr Updesh Verma*
*National Coordinator NEEV*
www.neeviit.org 7599182718
कृपया बेसहारा लोगो की मद्दत हेतु इस खबर को प्रकाशित करने की कृपया करे।