गैस रिसाव के कारण एनटीपीसी ऊंचाहार परियोजना यूनिट दो मरम्मत के लिए किया बंद

रायबरेली।एनटीपीसी के ऊंचाहार परियोजना में 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर दो में तकनीकी खराबी आ गई है। जिसके कारण इस यूनिट को बंद किया करना पड़ा है ।यूनिट में मरम्मत का कार्य शुरू कर दिया गया है ।ऊंचाहार परियोजना में 210 मेगावाट क्षमता वाली यूनिट नंबर दो के बॉयलर ट्यूब में गैस का रिसाव हो रहा था ।यह रिसाव विगत दो दिन से हो रहा था। रविवार की रात रिसाव काफी बढ़ गया था। इसके बाद उच्च प्रबंधन ने सोमवार प्रातः काल करीब तीनबजे इस यूनिट को बंद कर दिया ।ज्ञात हो कि बॉयलर का तापमान काफी अधिक होता है, इसलिए यूनिट को बंद करने के बाद तत्काल मरम्मत का कार्य नहीं शुरू हो पाया। यूनिट बंद होने के बाद बॉयलर के तापमान को घटाया गया। उसके बाद उसके ट्यूब की मरम्मत शुरू की गई है । इससे पहले पिछले सप्ताह इस यूनिट के टरबाइन में खराबी आ गई थी। उस समय भी यूनिट को बंद करना पड़ा था।ज्ञात हो कि ऊंचाहार परियोजना में 210 मेगा वाट प्रत्येक यूनिट क्षमता के कुल पांच इकाइयां स्थापित है ।जबकि 500 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर छह स्थापित है। ऊंचाहार परियोजना की कुल उत्पादन क्षमता 15 50 मेगावाट है। यूनिट नंबर दो के बंद होने के बाद उत्पादन क्षमता घटकर 1340 मेगावाट रह गई है। एनटीपीसी की जनसंपर्क अधिकारी कोमल शर्मा ने बताया कि गैस रिसाव के कारण यूनिट को मरम्मत के लिए बंद किया गया है ।जल्दी चालू कर दिया जाएगा।