10 वर्ष पूर्व बने आधार कार्डों के अपडेशन के लिए जनपद में संचालित होगा अभियान

बहराइच। दस वर्ष या उससे अधिक समय पूर्व बने आधार कार्डों के अपडेशन हेतु भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण, क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा जिले में संचालित होने वाले अभियान के सफल क्रियान्वयन के उद्देश्य से बुधवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने कहा कि लोगों को जागरूक किया जाए कि केंद्र और राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार महत्वपूर्ण दस्तावेज़ है। आधार अपडेटेड होने से कोई भी व्यक्ति आसानी के साथ केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकता है। इसलिए इसका अपडेटेड होना लाभदायक है।
डीएम ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि अपडेशन कार्य में लोगों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए विशेष आधार कैंपों को पूरी क्षमता से क्रियान्वित कराया जाय साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाए कि वहॉ पर सभी आवश्यक संसाधन भी उपलब्ध हों। डीएम ने यह भी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि कोई भी सेन्टर अपडेशन के लिए निर्धारित शुल्क रू. 50=00 से अधिक राशि किसी नागरिक से वसूल न करने पाएं।
डीएम डॉ. चन्द्र ने बताया कि आधार में एक ख़ास फीचर है की आप इसे आसानी से अपडेट करा सकते है। नागरिकों को चाहिए कि विशेष तौर पर अपने पते और मोबाइल नंबर को हमेशा अपडेट रखें। डीएम ने आमजन से अपील की है कि अगर आपका आधार बने हुए 10 साल या उससे अधिक हो गया है तो अपना आधार अपडेट जरुर कराएं। आधार अपडेट के लिए अपने पते का प्रमाण और पहचान के प्रमाण को साथ लेकर अपने नजदीकी आधार केन्द्र पर जाकर अपडेशन करा सकते हैं जिसके लिए रू. 50=00 मात्र का शुल्क निर्धारित है।
बैठक के दौरान जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी डॉ. अर्चना सिंह ने बताया कि जनपद में आधार नामांकन और अपडेट कार्य हेतु लगभग 274 आधार नामांकन और अपडेट मशीन कार्यरत हैं। आधार नामांकन और अपडेट मशीनों द्वारा पिछले एक महीने में लगभग 16.18 हजार नए आधार नामांकन और लगभग 19.87 हजार आधार का अपडेशन किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इस समय फैमिली आईडी बनाने का प्रोजेक्ट भी चल रहा है ताकि आधार के माध्यम से आमजन को बेहतर सुविधाएं निवासियों को दी जा सकेंगी। सर्विसेज डिलीवरी का बेहतर एवं पारदर्शिता के साथ संचालित करने हेतु ज़रूरी है कि आधार में पहचान और पते के दस्तावेज़ अपडेटेड हों। डॉ. सिंह ने बताया कि इच्छुक व्यक्ति माई आधार पोर्टल पर जाकर स्वयं भी अपने आधार को आनलाइन अपडेट कर सकते हैं जिसके लिए रू. 25=00 का शुल्क निर्धारित है।
इससे पूर्व नीति आयोग द्वारा निर्धारित सूचकांकों के प्रगति की समीक्षा करते हुए डीएम डॉ. चन्द्र ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि नियमित रूप से अपने स्तर पर समीक्षा करते हुए प्रगति से सम्बन्धित मूलभूत आंकड़े भी उपलब्ध कराते रहे। बैठक का संचालन डीईएसटीओ डॉ. अर्चना सिंह ने किया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, सीएमओ डॉ. एस.के. सिंह, डीडीओ महेन्द्र कुमार पाण्डेय, पीडी डीआरडीए पी.एन. यादव, उपायुक्त एनआरएलएम के.डी. गोस्वामी, डीडीएम नाबार्ड एम.पी. बर्नवाल, सहायक निदेशक मत्स्य डॉ जितेन्द्र शुक्ला, प्राचार्य आईटीआई प्रदीप अग्निहोत्री, पीओ डूडा संजय सिंह अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।