पांच वर्ष से तैयार सरकारी आवास नही हुआ हैंडओवर,किराए के नाम पर हजारो का लगाया जा रहा चूना


गोंडा देवीपाटन मंडल मुख्यालय पर स्थित अपर निदेशक स्वास्थ्य का कार्यालय जंगल और झाड़ियों में तब्दील है, कार्यालय में जाने के लिए तो रास्ता है लेकिन प्रांगण पूरी तरह से जंगल में आबाद है।प्रांगण में ही बने दो मंजिलें आवास 5 वर्ष पूर्व लाखों रुपए सरकारी धन से तैयार हुए थे, लेकिन अब तक विभाग को हैंड ओवर नहीं किया गया है। जिन कर्मचारियों को आवंटन के लिए यह आवास तैयार कराया गया था,उनको आवास आवंटित ना करके, बल्कि ऐसे कर्मचारियों को किराए के नाम पर हजारों रुपए सरकार को अलग से चूना लगाया जा रहा है। आवास को जीरो ग्राउंड से देखा गया तो पूरी तरह से तैयार है लाइट भी लगी है केवल साफ-सफाई बाकी है यह कार्य तो स्वयं कर्मचारी जो निवास करता वह कर सकते थे। लेकिन ऐसा न करके विभागीय अधिकारी प्रतिमाह कर्मचारियों को किराए के नाम पर हजारों रुपए सरकार को चूना लगा रहे हैं।