!!!एमडीएम की कहानी!!समूहों की मनमानी

⏰रामनगर💥 जब विभाग मेहरबान,तो गधा भी पहलवान👆🏿 नौनिहालों के निवाले से समूह संचालक पालित पोषित,,जन शिक्षक,संकुल प्राचार्य,बीआरसी,व जनपद पंचायत रामनगर की कार्यप्रणाली पर लम्बा सवाल,,विगत दो सालो से स्कूल में नही बन रहा मध्यान्ह भोजन,समूह संचालक की राजनैतिक पकड़ व जकड़ में फंसे जिम्मेवार,प्राप्त खबर के अनुसार शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय हरदुआ,संकुल केंद्र मिरगौती में पिछले दो सालो से मध्यान्ह भोजन का कार्य नही हो रहा है,61 छात्र संख्या वाले सरकारी विद्यालय में एमडीएम भोजन निर्माण एजेंसी दीपक स्वयं सहायता समूह हरदुआ द्वारा की जा रही स्वेच्छाचारिता के चलते सरकारी स्कूली छात्र /छात्राएं,एमडीएम से वंचित है,जबकि संस्था प्रधान द्वारा कईं बार उच्च कार्यालय को लिखित सूचना दी जा चुकी है,लेकिन सफेदपोशों की गुलामी में मन्न अमले को कार्यवाही करने में पसीना आ रहा है,विगत 15 नवम्बर को सीईओ रामनगर को जारी पत्र में संस्था प्रमुख ने कार्यवाही करने की मांग की है,अब देखना यह है कि नए नवेले प्रभारी सीईओ कार्यवाही कर पाते है,या वह भी,अपने मातहतों की गाइड लाइन पर काम करते हुए सफेदपोशों के चहेते बनकर,जांच कार्यवाही करते हुए सत्र गुजरने का इंतजार करेंगे,,यह बड़ा प्रश्न है--शेष जाने जन शिक्षक,संकुल प्राचार्य,बीईओ,या बीआरसी महोदय,,जिनक कमल नयनों की देख रेख में उक्त व्यवस्था को अंजाम दिया जा रहा है 7898080021✍🏿