सुभाष नगर का चायवाला हत्याकांड :  पत्नी के लिए अपशब्द नहीं सुन सका पति , सबक सिखाने  के लिए दोस्त के साथ मिलकर दिया था घटना को अंजाम ,

बरेली : सुभाषनगर थाना क्षेत्र में चाय वाले की हत्या का खुलासा कर दिया है।पुलिस ने घटना के संबंध में दो हत्यारोपी दोस्तों को गिरफ्तार करने के साथ हत्या में इस्तेमाल सामान को भी बरामद किया है।पुलिस के मुताबिक पुलिस की जांच में यह पता चला कि मृतक ने हत्यारोपी की पत्नी को अशोभनीय शब्द बोलने के साथ कुकर्म का प्रयास किया था इसी बात से आक्रोशित मुख्य हत्यारोपी रामजी उर्फ़ गौरव ने अपने करीबी दोस्त शिवकुमार के साथ घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने प्रेसकॉन्फ्रेंस में बताया कि 21/22 सितम्बर की रात्रि में बदायूं रोड पर करगैना वीरपाल सिंह के धर्मशाला के हॉल में अज्ञात अभियुक्तगण द्वारा राजेन्द्र मौर्य की गला घोटकर हत्या की जाने की घटना हुई थी ।

जिसके सम्बन्ध में थाना सुभाषनगर पर अज्ञात के खिलाफ पंजीकृत किया गया था। घटना के सम्बन्ध में स्थानीय पुलिस एवं सर्विलांस शाखा के मदद से 15 नवंबर को अभियुक्त रामजी सिंह उर्फ गौरव सिंह पुत्र हरकरन सिंह नि0 सिमराबोरीपुर थाना फरीदपुर जिला बरेली , शिवकुमार पुत्र विनोदपाल सिंह चौहान निवासी गोपालपुर नगरिया अनूप थाना बिथरी चैनपुर जिला बरेली को घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल के साथ ग्राम रोधी मिलक तिराहे के पास से गिरफ्तार किया गया। वही अभियुक्तों की निशादेही पर राजेन्द्र मौर्य के हत्या में प्रयुक्त आलाकत्ल तार तथा राजेन्द्र मौर्य की जेब से निकाला गया मृतक राजेन्द्र का मोबाईल फोन व शटर के ताले की चाबी भी बरामद की गई जेन्द्र मौर्य (मृतक) काफी दिनों से वीरपाल सिंह की धर्मशाला हॉल में सोता था। वीरपाल सिंह का धेवता रामजी सिंह उर्फ गौरव सिंह पुत्र हरकरन सिंह नि0 सिमराबोरीपुर थाना फरीदपुर जिला बरेली भी कभी-कभी सोता था । राजेन्द्र मौर्य शराब पीने व मीट मुर्गा खाने का शौकीन था। वह रामजी सिंह को भी शराब पिलाकर उसे मीट की दावत देता था । कुछ दिन पूर्व राजेन्द्र मौर्य द्वारा रामजी सिंह को शराब पिलाकर व मीट खिलाकर रात्रि में रामजी सिंह के तख्त पर उसके पास लेटकर गलत काम करने का प्रयास किया । इस बात का विरोध करने पर राजेन्द्र मौर्य ने रामजी सिंह को भला बुरा कहा तथा रामजी सिंह की पत्नी के सम्बन्ध में भी भद्दी टिप्पणी की थी ।इसी बात से नाराज होकर दिनांक 21/22 सितम्बर की रात्रि में रामजी सिंह द्वारा अपने स्कूल समय के मित्र शिवकुमार पुत्र विनोदपाल सिंह चौहान निवासी गोपालपुर नगरिया अनूप थाना बिथरी चैनपुर जिला बरेली के साथ मिलकर मोटर साईकिल से घटनास्थल धर्मशाला में जाकर राजेन्द्र मौर्य के साथ शराब व मुर्गा मीट पकौड़ी की सभी ने दावत खायी तथा राजेन्द्र को नशा होने पर राजेन्द्र मौर्य का पीवीसी तार (डिश वाला तार) से गला घोटकर उसकी हत्या कर मृतक के कुर्ता की जेब से फोन व शटर की चाबी निकाल ली बाद में मृतक राजेन्द्र को उसकी चारपाई पर लिटाकर उसके ऊपर चादर ढककर चारपाई पर मच्छरदानी लगा दी ताकि लोग समझें की राजेन्द्र मौर्य की स्वभाविक मौत हुई है । उसके बाद अभियुक्तगण रामजी सिंह व शिवकुमार धर्मशाला हॉल का शटर बन्द करके मोटर साईकिल से वापस भाग गये थे ।सीओ आशीष कुमार सुभाषनगर थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति की बालाजी के पास बने गोदाम के पास एक व्यक्ति की हत्या की गई थी। पोस्टमार्टम जांच में पता चला कि मृतक की गला घोंटकर हत्या की गई है। पुलिस की जांच में पता चला कि वीरपाल सिंह का धर्मशाला है उनके ही धेवते ने अपने मित्र के साथ मिलकर हत्या इस वजह कि है क्यूंकि मृतक ने उसकी पत्नी को गलत शब्द बोले थे इसी आवेश में यह हत्याकांड हुआ है। स्थानीय पुलिस ने सर्विलांस की मदद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है।