किला पुलिस ने बाइक मे लगे चोरी के इंजन और पार्टस बरामद कर अभियुक्तों को भेजा जेल

थाना किला पुलिस ने चेंकिग के दौरान मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति पर शक होने के चलते उसे रोककर जब पूछताछ की तो उसमें चोरी का इंजन लगा मिला। किला पुल के नीचे अपनी टीम के साथ चेंकिग कर रही सराय पुलिस चौकी की तेजतर्रार इंचार्ज रीता तेवतिया ने सामने आते व्यक्ति पर शक होने के चलते जब उससे पूछताछ की उसने मोटरसाइकिल मे लगा इंजन चोरी का होने की बात कबूल की। पूछताछ में अभियुक्त ने अपना नाम हनीफ पुत्र रहीस निवासी बाकरगंज थाना किला बताया। इसके अलावा पूछताछ के दौरान उसने बाकरगंज के ही रहने बाले मोटरसाइकिल मैकेनिक अकरम का नाम लिया जिसकी दुकान पर चोरी की गई मोटरसाइकिलों के इंजन व पार्टस की अदला-बदली होने का कार्य अंजाम दिया जाता था। चौकी इंचार्ज रीता तेवतिया ने अकरम की बाकरगंज स्थित दुकान पर छापेमारी कर वहां से चोरी के अन्य दो इंजन व कुछ पार्टस भी बरामद किये। अकरम की निशानदेही पर बाकरगंज और मोहल्ला ज़खीरा के दो अन्य अभियुक्तों के नाम भी सामने आये जो इन दोनों के साथ मोटरसाइकिल चोरी की घटनाओं को अंजाम देकर उनके इंजन व पार्टस को दूसरी मोटरसाइकिल मे लगाकर बेच देते थे। सराय चौकी इंचार्ज रीता तेवतिया ने बताया कि चेकिंग मे मोटरसाइकिल पर चोरी के जो इंजन और पार्टस लगे मिले हैं,उनके वाहन चोरी का मुकदमा बरेली के इज्जतनगर और पीलीभीत के बीसलपुर थानों मे पहले से पंजीकृत है। पकड़े गये 4 अभियुक्तों मे से 3 थाना किला के बाकरगंज और थाना बारादरी के मोहल्ला ज़खीरा के निवासी हैं।किला पुलिस ने अभियुक्तों से चोरी का सामान और मोटरसाइकिल बरामद करते हुए उन पर मुकदमा लिखकर जेल भेज दिया।चेकिंग टीम मे सब इंस्पेक्टर रीता तेवतिया, हेड कांस्टेबल सुरेश कुमार, कांस्टेबल सचिन कुमार,कांस्टेबल अमित सैनी आदि पुलिसकर्मी मौजूद रहे।