सख्त प्रशासन के बावजूद मनरेगा में चल रहा है घोटाला फर्जी हाजिरी लगाकर निकाल लिए गए पैसे

सख्त शासन के बावजूद भी मनरेगा में चल रहा घोटाला, फर्जी हाजिरी लगाकर निकाले गए पैसे हुई शिकायत

इटियाथोक/गोंडा
इटियाथोक ब्लाक के ग्राम पंचायत बिहुरी के रहने वाले विनय कुमार पुत्र शेषराम ने उपायुक्त श्रम रोजगार को दिए गए शिकायती पत्र में बताया है की ग्राम पंचायत बिहुरी के ग्राम प्रधान व सचिव द्वारा फर्जी हाजिरी लगा कर मनरेगा से धन आहरित कर लिया है। शिकायती पत्र के साथ इस फर्जीवाड़े की पुष्टि के लिए उन्होंने साक्ष्य संकलित किया है जिसमे दर्शाया गया है की मास्टर रोल संख्या 2632 में बाबादीन पुत्र रामजस की हाजिर दर्शा कर चौदह दिनों की मजदूरी आहरित की गयी है जबकि इन्ही तिथियों में बाबा दीन विशेष न्यायधीश एससी एसटी एक्ट की अदालत में भी उपस्थित हुआ है। कोर्ट में उपस्थिति का हस्ताक्षर साक्ष्य प्रस्तुत करते हुए विनय ने कहा है की बाबादीन के गाँव से मुख्यालय की दूरी 35 किलो मीटर है वहां पहुंचने में एक से ढेड़ घण्टे का वक्त लगता है, न्यायालय की कार्यवाही दस बजे तक प्रारम्भ होती है। ऐसे में मनरेगा के मस्टर रोल में उसी दिनांक को उपस्थित रह कर कार्य कर पाना सम्भव नही है, ग्राम प्रधान व सचिव की मिली भगत से फर्जी कूटरचित मस्टर रोल तैयार करके इसी तरह सरकारी धन आहरित की जाती है। विनय ने इसकी शिकायत करते हुए ग्राम प्रधान व सचिव द्वारा किये गए फर्जीवाड़े की उच्चस्तरीय जांच व कार्यवाही की मांग की है। इस बाबत खंड विकास अधिकारी रूपनारायन भारती ने बताया मामला संज्ञान में आया है सचिव ने अभिलेख तलब किया गया है मामले की जांच करा कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।