नवविवाहिता से मिलने पहुंचा प्रेमी का लाठी-डंडों से किया स्वागत, फिर कराई शादी

बलिया।उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में एक युवक अपनी प्रेमिका से मिलने ससुराल पहुंचा, लेकिन जब ग्रामीणों को पता चला तो उसने प्रेमिका से मिलने आए प्रेमी का स्वागत लाठी-डंडे से किया। इस घटना को लेकर इलाके में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। कोई कह रहा है कि समाज की धारा गलत दिशा में मुड़ गई है, तो कोई यह कहते हुए पाया गया है कि प्यार में पागलपन की कोई सीमा नहीं होती।

घटना बलिया जिले की तहसील बेलथरा रोड स्थित एक गांव की है। बताया गया कि यहां एक युवक आधी रात को एक घर में घुसा। घरवालों को शक हुआ कि घर में कोई आपत्तिजनक गतिविधि है तो उन्होंने पूरे घर की तलाशी ली। तब परिजनों ने देखा कि उनकी बहू अपने कमरे में एक अज्ञात युवक के साथ है। घर की बहू के साथ रहे युवक को देख घर के लोग दंग रह गए।

परिजनों ने आसपास के लोगों को बुलाया और नवविवाहित प्रेमी को लाठी-डंडों से पीटा। आधी रात से शुरू हुए हंगामे से पूरा गांव मौके पर जमा हो गया। वहीं प्रेमी की पिटाई के बावजूद विवाहिता ने उसके साथ रहने की जिद की। उसने कहा कि वह उसके साथ रहेगी।

गुजरात में काम करता है पति

विवाहिता के जिद के सामने परिवार के किसी सदस्य ने काम नहीं किया तो उन्होंने पंचायत बुलाई । अगले दिन सुबह विवाहिता के पति को घटना की सूचना दी गई। सूचना मिलने पर पति पहले तो हैरान हुआ, लेकिन बाद में उसने अपनी पत्नी को प्रेमी के साथ भेजने की बात कही।

पति की इजाजत के बाद हुई प्रेमी-प्रेमिका की शादी

पहले तो घरवाले और गांववाले स्थानीय कानून का हवाला देकर विवाहिता को समझाने में लगे रहे. लेकिन बाद में जब उसका पति उसे प्रेमी के साथ भेजने के लिए राजी हुआ तो परिजन नवविवाहिता और उसके प्रेमी को चौकी मोड़ स्थित दुर्गा मंदिर ले गए और दोनों की शादी करा दी। इसके बाद दोनों को वहां से रवाना कर दिया गया। बता दें कि सिकंदरपुर की विवाहिता की शादी करीब डेढ़ साल पहले जमुआन गांव में हुई थी।