किन्नर भी नहीं रहे सुरक्षित, हवस के पुजारियों ने अगवा कर किया गैंग रेप

किन्नर को अगवा करके किया गया गैंगरेप थाना ललौली में एफआईआर ना लिखे जाने पर पीड़ित ने प्रशासन से लगाई न्याय की गुहार

ललौली /फतेहपुर, थाना ललौली क्षेत्र के अंतर्गत किन्नर जहीर उर्फ माधुरी पुत्र रजब अली निवासी आजाद नगर कस्बा बहुवा ,जनपद फतेहपुर के रहने वाले हैं। जो कि 5 मई 2022 को अपने घर जा रहा थे। कि रास्ते में तकरीबन शाम 5:30 बजे रामलीला मैदान के पास बोलेरो कार सवार छोटू पुत्र धर्मेंद्र निवासी बहुवा, शबी पुत्र हनीफ निवासी पनी, लल्लू मियां कोठी, तथा एक अज्ञात को मिलाकर कुल 4 लोगों ने उन्हें 6जबरदस्ती चार पहिया वाहन में अगवा करके जंगल ले गए जहां पर उसके मुंह और हाथ बांधकर उन लोगों ने बारी-बारी से उसके साथ ( गैंग रेप) किया। और उनसे वह सब करने के लिए बोले जो एक अपराध की श्रेणी में आता है । पीड़ित किन्नर ने बताया कि मुझे 4 दिन से यह लोग जोर जबस्ती करके मेरे साथ बुरा काम कर रहे थे । और कह रहे थे कि तेरे नाम जो 25 बीघा खेत है वह हम लोगों के नाम कर दे। नहीं तो हम तेरे साथ ऐसा ही कृत्य करते रहेंगे जब तक तू हां नहीं करेगा हम तुझे नहीं छोड़ेंगे ।वहीं पीड़ित ने बताया कि मैं किसी तरह से वहां से रस्सी खोल कर भागने में कामयाब रहा। जब मैंने इसकी सूचना चांदपुर थाने में जाकर दी तो उन्होंने कहा कि यह मामला ललौली थाना क्षेत्र का है।आप ललौली थाने में जाकर अपनी तहरीर दीजिए। जब मैं ललौली थाना पहुंची तो वहां पर भी मेरी तरफ से एफ आई आर नहीं लिखी गई ।पीड़ित ने बताया कि मेरे कीमती जेवर जिसकी कीमत करीब 1लाख 30000 रुपये के आसपास है। साथ ही 50000 रुपये नगद छीनने का भी आरोप लगाया है। अब देखना यह है कि क्या फतेहपुर जनपद की पुलिस या ललौली थाना क्षेत्र पुलिस पीड़ित के साथ न्याय करती है। क्या आरोपियों के विरुद्ध कोई कठोर कार्रवाई की जाएगी या उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा जो कि एक गंभीर चिंता का विषय है।