कानपुर-भाजपा संयोजक सहित पिता को भी पुलिस ने पीटा.......

कानपुर-भाजपा के सेक्टर संयोजक व उसके पिता को पुलिस ने लात- घूसों से पीटा, पुराने विवाद से था कनेक्शन


घाटमपुर में भारतीय जनता पार्टी के बीबीपुर सेक्टर संयोजक और उनके पिता को सजेती पुलिस ने लात-घूसों से थाने के अंदर मारा पीटा। बाद में बरीपाल मंडल के महामंत्री के पहुंचने पर दोनों पिता-पुत्र को छोड़ा गया। भाजपा कानपुर ग्रामीण के जिलाध्यक्ष ने मामले कि शिकायत एएसपी आदित्य शुक्ला से करते हुए कार्रवाई की मांग की है।

सजेती क्षेत्र के दहिलर गांव निवासी रविशंकर निषाद भाजपा में बरीपाल मंडल के सेक्टर व शक्ति केंद्र संयोजक हैं। रविशंकर ने बताया कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन उनके पिता रामबाबू निषाद का गांव में ही एक लोगों से अन्ना जानवरों को लेकर विवाद हुआ था। मामले में तब के सजेती एसओ रावेंद्र मिश्रा ने उनके पिता पर शांति भंग की कार्रवाई की थी। जिसकी जमानत उन्होंने कोर्ट से करा ली थी। अब इस मामले में विपक्षी फिर शिकायत लेकर सजेती थाने गए थे। सजेती एसओ नीरज बाबू ने उन्हें और उनके पिता को थाने बुलाया था। आरोप है कि सजेती एसओ ने थाने के अंदर उनके पिता और उनको लातों और घूसों से मारा और फिर हवालात में डाल दिया। इसकी जानकारी उन्होंने बरीपाल मंडल अध्यक्ष आशीष परमार को दी तो उन्होंने मंडल महामंत्री अंकित निषाद और रविसेंगर को भेजकर उन्हें छुड़वाया। मामले में भाजपा के बरीपाल मंडल अध्यक्ष का कहना है उनके सेक्टर संयोजक ने थाने से ही पहले पिता के साथ मारपीट की सूचना दी थी। इस पर पुलिस से कहा गया था कि अगर वे किसी मामले में दोषी तो कार्रवाई की जाए, लेकिन मारपीट न करे। इसके बावजूद पुलिस ने सेक्टर संयोजक के बुजुर्ग पिता के साथ ही उसे भी पीटा। बरीपाल मंडल अध्यक्ष का कहना है कि गुरुवार को क्षेत्र के सभी कार्यकर्ता सजेती थाने का घेराव करेंगे।

सजेती एसओ बोले- मारपीट की बात गलत: सजेती एसओ नीरज बाबू का कहना है कि उनके पास एक महिला शिकायत लेकर आई थी। महिला का आरोप था कि शौंच जाते समय रामबाबू निषाद ने उसके साथ छेडख़ानी की थी। मामले में दोनों पक्षों को बुलाया गया था। डपटकर उन्हें बैठाया गया था। मारपीट की बात गलत है।

देर शाम सेक्टर संयोजक के पिता पर छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज: मामले में सजेती पुलिस ने सेक्टर संयोजक के पिता पर बुधवार देर शाम छेडख़ानी की रिपोर्ट दर्ज की। रिपोर्ट दर्ज कराने वाली महिला के मुताबिक बीती 14 नवंबर की शाम को वह शौंच से वापस आ रही थी। इसी दौरान रामबाबू निषाद ने उसे दबोचकर अश्लील हरकत की। विरोध पर जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गया। घटना के दस दिन बाद महिला ने थाने आकर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

इनका ये है कहना:

मेरी जानकारी में यह मामला आया है। बरीपाल मंडल अध्यक्ष ने इसकी जानकारी दी थी। मामले की शिकायत एएसपी आदित्य शुक्ला से की गई है। एसओ पर कार्रवाई की मांग की गई है। - कृष्ण मुरारी शुक्ला, भाजपा जिलाध्यक्ष (कानपुर ग्रामीण)

जानकारी में मामला आया है। अभी पूरी तरह से इस घटना की जानकारी नहीं है। कार्यकर्ताओं से मामला समझकर पुलिस अधिकारियों से जिम्मेदार के खिलाफ कार्रवाई के लिए कहेंगे। - उपेंद्र पासवान, विधायक