चंदौली- जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस में गायब रहे 13 विभागीय अधिकारी, डीएम ने रोका 1 दिन का वेतन

चंदौली- जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस में गायब रहे 13 विभागीय अधिकारी, डीएम ने रोका 1 दिन का वेतन

संवाददाता कार्तिकेय पाण्डेय

चंदौली- शासन और डीएम की सख्ती के बावजूद अफसरों की लापरवाही कम होने का नाम नहीं ले रही। शनिवार को तहसीलों में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। डीएम संजीव सिंह ने खुद नौगढ़ तहसील में उपस्थित रहकर जनता की फरियाद सुनी। लेकिन 13 अधिकारी आयोजन से गायब रहे। नाराज जिलाधिकारी ने अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोकने के साथ ही कारण बताओ नोटिस जारी करने की कार्रवाई की। भैसौड़ा गांव में हैंडपंपों की मरम्मत की शिकायत पर कोई कार्रवाई न करने पर एडीओ पंचायत को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी करने का निर्देश दिया।

बाघी की सोना देवी ने डीएम को बताया कि कृषक बीमा दुर्घटना बीमा योजना का लाभ नहीं मिला। ग्रामीणों ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि भैसौड़ा गांव में हैंडपंप काफी दिनों से खराब है। कई बार प्रार्थना पत्र दिया गया, लेकिन मरम्मत नहीं कराई गई। इस पर एडीओ पंचायत महेंद्र प्रताप को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी करने का निर्देश डीपीआरओ ब्रह्मचारी दुबे को दिया। कहा संपूर्ण समाधान दिवस व आनलाइन पोर्टल पर आने वाली शिकायतों का गंभीरता के साथ निस्तारण किया जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बताया कि पारिवारिक लाभ योजना में फर्जी ढंग से पैसे का भुगतान किए जाने की शिकायत मिली है। इसकी जांच के लिए अधिकारियों की टीम गठित कर दी गई है। शौचालय लाभार्थियों के भुगतान में अनियमितता की शिकायत की भी जांच कराई जाएगी। डीएम ने अंत में प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को घर की चाबी सौंपी। इसके बाद निर्माणाधीन नौगढ़ तहसील भवन का निरीक्षण किया। उन्होंने आवासीय व अनावासी भवनों का निर्माण के प्रगति की जानकारी कार्यदाई संस्था के अधिकारियों से लिया। प्रशासनिक भवन का प्रथम व द्वितीय तल, बैरक का निर्माण, कैदी भवन, कैंटीन, बाउंड्री वाल आदि का निर्माण कार्य देखा। कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधियों को मानक के अनुरूप काम करने की हिदायत दी। वापस मुख्यालय लौटते समय डीएम प्राथमिक विद्यालय गोड़टूटवा पहुंचे। विद्यालय में सफाई व्यवस्था व पेयजल के लिए लगाए गए हैंडपंप की स्थिति के बारे में जानकारी ली। शिक्षकों व प्रधानाध्यापक से एमडीएम के बारे में पूछताछ की।

इस दौरान एसपी अंकुर अग्रवाल, एसडीएम डाक्टर अतुल कुमार, डीडीओ लक्ष्मण प्रसाद, तहसीलदार सुरेशचंद्र समेत विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।