महाराजा शूरसेन जी की जयंती को अन्तर्राष्ट्रीय सैनी एकता दिवस के रूप में मनाने का किया आव्हान : भगीरथ सेना

सूर्यवंशी कुल के महाराजा दशरथ के पुत्र एवं भगवान् श्री राम के अग्रज भ्राता महाराजा शत्रुघन ने शूरसेन जनपद की स्थापना करके उस अपने सुपुत्र महाराजा शूरसेन /शूरसैनी जी को राजा बनाया !

हिन्दू धर्म के ग्रंथों के अनुसार महाराजा शूरसेन जी के वंशज सैनी कहलाएं इसीलिए इनको महाराजा शूर सैनी जी के नाम से भी जाना जाता है !

सैनी समाज के प्रवर्तक महाराजा शूरसेन जी की जयंती प्रत्येक वर्ष सैनी समाज के लोग बड़े हर्ष उल्लास के साथ मनाते आएं हैं इसलिए अबकी बार 20 दिसंबर को महाराजा शूरसेन जी की जयंती को सैनी समाज के युवाओं एवं भगीरथ सेना द्वारा इसको ?अन्तर्राष्ट्रीय सैनी एकता दिवस? के रूप में मनाने का निर्णय लिया है !

इस मुहिम में भगीरथ सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट मदन लाल सैनी जी, संस्थापक श्रीमान सोनू सैनी सुदर्शन जी, राष्ट्रीय आईटी प्रभारी प्रहलाद सैनी सूर्यवंशी, किरण पाल सैनी, महेश सैनी ( प्रदेश अध्यक्ष, राजस्थान ), बाबूलाल सैनी, धनराज सैनी, गौतम सैनी, संजय सैनी, विकास सैनी, पदम सैनी, भगवती प्रसाद सैनी आदि !