राम कथा सुनने से भवसागर को पार कर जाता है मनुष्य- छबीले दास जी महाराज

राम कथा सुनने से भवसागर को पार कर जाता है मनुष्य- छबीले दास जी महाराज

संवाददाता कार्तिकेय पाण्डेय

चकिया- तहसील क्षेत्र के उसरी गांव में श्री श्री नारायण सेवा समिति द्वारा आयोजित शतचण्डी महायज्ञ एव श्री राम कथा के पाचवीं निशा पर कथा व्यास राम छबीले दास जी महाराज ने श्रद्धालुओं को रामकथा का रसपान कराया।

वहीं उन्होने रामायण के भगवान श्री राम के जन्म से लेकर राम के विवाह तक के चरित्रों का विस्तृत रूप से श्रद्धालुओं को रसपान कराया।वहीं उन्होने कहा कि श्री राम कथा सुनने से ही जगत का कल्याण होने वाला है।और राम कथा सुनना ही पुण्य का काम है।बताया कि श्री राम कण-कण में रमण करने वाली शक्ति है और श्री राम की कथा श्रवण करने से इंसान भवसागर से पार हो जाता है।कहा कि जो भगवान की कथा को श्रवण कर अपने जीवन में चरितार्थ करते हैं तो उसका जीवन धन्य हो जाता है।

इस दौरान परमानंद पाण्डेय,शर्मानंद पाण्डेय,विकास पाण्डेय,अभिषेक पाण्डेय,लक्ष्मीकांत पाण्डेय,विध्याधर पाण्डेय,राजेश खरवार,अरविंद यादव प्रधान,लोकनाथ पूर्व प्रधान,चंद्रप्रकाश मौर्या,सहित तमाम लोग मौजूद रहे।