👉तालाब निर्माण में अनियमितता, कलेक्‍टर ने दिये सख्‍त कार्यवाही के निर्देश चांचौड़ा के ग्राम नारायणपुरा में 14.70 लाख के तालाबों के निर्माण मे अनियमितता निर्माण कार्यो में लापरवाही छम्‍य नही

गुना-कलेक्?टर श्री फ्रेंक नोबल ए. द्वारा ग्राम नारायणपुरा विकास खंड चांचौड़ा के 4 तालाबों के निर्माण में अनियमितता पाये जाने पर सरपंच को पद से बर्खास्?त करने, सचिव को निलंबित करने, रोजगार सहायक की सेवाएं समाप्?त करने तथा धारा 92 के तहत बैंक से निकाली गयी निर्माण कार्य की राशि वसूली करने सहित अन्?य आवश्?यक कार्यवाहियां करने के निर्देश सीईओ जिला पंचायत को दिए हैं।�
�कलेक्?टर श्री फ्रेंक नोबल ए. के संज्ञान में जब यह बात आयी कि चांचौड़ा की ग्राम पंचायत नारायणपुरा में चार तालाब 14 लाख 70 हजार की लागत से निर्मित किये जाना है, इनका निर्माण कार्य नही हुआ है और राशि निकाल ली गयी है। कलेक्?टर ने तत्?काल आरईएस के कार्यपालय यंत्री श्री दिलीप देशमुख, नरेगा के कार्यपालन यंत्री श्रीमति अर्चना भास्?कर को जांच के निर्देश दिए हैं। जांच के उपरांत यह पाया गया कि ग्राम पंचायत में तालाब निर्माण किये ही नही गये, जबकि 14 लाख 70 हजार रूपये की राशि आहरित कर ली गयी है। निर्माण कार्य की राशि रोजगार सहायक श्री संजय मीणा तथा ग्राम पंचायत सरपंच श्रीमति शीला राजेन्?द्र सहरिया के हस्?ताक्षर से आहरित हुयी है। जबकि ग्राम पंचायत सचिव द्वारा इसमें ऊपर जानकारी नही देना पाया गया। कलेक्?टर ने मामले में कार्यवाही करते हुए सरपंच के विरूद्ध धारा 92 एवं धारा 40 के तहत सरपंच को पद से पृथक करने, सचिव को निलंबित करने तथा रोजगार सहायक की सेवाएं समाप्?त के निर्देश दिए हैं।�
�कलेक्?टर ने स्?पष्?ट रूप से निर्देश दिए हैं कि किसी भी कार्य में लापरवाही और अनियमितता बर्दाश्?त नही की जायेगी। जो भी दोषी होगा उसके विरूद्ध सख्?त कार्यवाही होगी।�
�ज्ञातव्?य है कि ग्राम पंचायत के उप सरंपच द्वारा इस संबंध में कलेक्?टर को शि?कायत की गयी थी।