शिवालय बाग शिव मंदिर नानपारा में किया गया पौधारोपण

नानपारा बहराइच महामना मालवीय मिशन बहराइच (अवध) के तत्वावधान में आज पौराणिक शिवालय बाग शिव मंदिर (नानपारा) में पर्यावरण जल संरक्षण एवं नशा उन्मूलन विषयक पर परिचर्चा का आयोजन कर विष मुक्त खेती तथा नशा मुक्त समाज बनाने का सामूहिक संकल्प लिया गया ।
शिवालय बाग परिसर में पंचवटी प्रजाति के वृक्षों का रोपण भी किया गया ।
आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीएमओ बहराइच डॉ राजेश मोहन श्रीवास्तव ने नशा को समाज का अभिशाप बताते हुए कहा कि , नशा पर यदि पूर्ण विराम न लगाया गया तो युवाओं का भविष्य अंधकार मय हो जाएगा साथ ही परिवार , समाज व राष्ट्र के नवनिर्माण ,प्रगति में भी बाधा पहुँचेगी ।

विशिष्ट अतिथि अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने कहा कि , अवैध नशा विक्रय पर प्रतिबंध लगाने के लिए लगातार प्रयास चल रहा है तथा अवैध विक्रय केंद्रों पर भी लगातार नजर रखी जा रही है लेकिन अवैध नशा कारोबार पर पूर्ण विराम तभी सम्भव है जबकि समाज के सभी लोगो का प्रभावी सहयोग मिले ।
उन्होंने पर्यवारण को स्वस्थ समाज के लिए आवश्यक बताया ।

रेड क्रॉस सोसायटी चेयरमैन एवं मालवीय मिशन अध्यक्ष (अवध) संजीव श्रीवास्तव एडवोकेट ने बताया की , अवैध नशा कारोबार पर तथा उपभोग , उत्पाद एवं विक्रय पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिए संगठन की ओर से लगातार जनजागरण कार्यक्रम चलाया जा रहा है ।
साथ ही तराई इलाकों में पर्यावरण संरक्षण के लिए देवालय , चिकित्सालय , विद्यालय व सरयू नदी के किनारे पंचवटी प्रजाति के वृक्षों का रोपण कर उन्हें संरक्षित करने का बड़ा अभियान स्थानीय जन सहयोग से चलाया जा रहा है ।
कार्यक्रम का संचालन रेड क्रॉस सोसायटी के आजीवन सदस्य राहुल पाण्डेय ने तथा धन्यवाद ज्ञापन तहसील अधिवक्ता संघ महामंत्री निर्मल श्रीवास्तव एडवोकेट ने किया ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महंत शिवालय बाग वीरेंद्र गिरी जी महाराज ने कहा कि , संगठन द्वारा चलाये जा रहे पर्यवारण संरक्षण व नशा उन्मूलन कार्यक्रम में उनकी ओर से प्रभावी सहयोग किया जा रहा है ।
आवश्यक है कि इस सामाजिक आंदोलन से आम जन की भी प्रभावी सहभागिता कराई जाए ।

आयोजित परिचर्चा में प्रमुख रूप से समाजसेवी वरिष्ठ पत्रकार धर्मेन्द्र कांत श्रीवास्तव , वैभव गुप्ता , सुरेंद्र गुप्ता , समाजसेवी दीपक श्रीवास्तव , सरदार सुखविंदर सिंह , मोहित कुमार , संघ नेता अशोक वर्मा , समाजसेवी मुरली मनोहर आदि उपस्थित रहे ।
समापन अवसर पर उपस्थित लोगों ने मंदिर परिसर में पंचवटी प्रजाति के वृक्षों का रोपण कर पर्यवारण संरक्षण एवं नशा उन्मूलन कार्यक्रम को प्रभावी बनाने का सामुहिक संकल्प लिया ।