भारी अव्यवस्था के बीच शुरू हुई मतगणना, प्रोटोकॉल की उड़ी धज्जियां


फतेहपुर बाराबंकी।
तहसील क्षेत्र के तीन विकास खंडों के इंटर कालेजों में रविवार को भारी अव्यवस्थाओं के बीच सुबह करीब आठ बजे के बाद मतगणना शुरू हुई। मतगणना के लिए पुलिस प्रशासन ने किलेबंदी कर रखी थी। सुबह आठ बजे से होने वाली गणना लगभग आधे घंटे देर से प्रारंभ हुई और देर शाम तक चलती रही। अव्यवस्था को लेकर मतगणना स्थल पर प्रत्याशी और पुलिस प्रशासन व अधिकारियों के बीच कई बार नोकझोंक हुई।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर तहसील फतेहपुर स्थित नेशनल इंटर कॉलेज में मतगणना स्थल के बाहर जमे समर्थक जीत और हार की जानकारी करने के लिए दिन भर जुटे रहे। मतगणना के लिए बाक्स खुलते ही कौन आगे और कौन पीछे हुआ, इसकी जानकारी करने के लिए हर कोई परेशान रहा। जीतने वाले प्रत्याशियों की खुशी का जहां ठिकाना नहीं रहा। हारने वाले दबे पांव मतगणना स्थल से बाहर निकलते रहे। ग्राम प्रधान पद के प्रत्याशियों के आगे-पीछे होने की खबर क्षेत्रीय लोग जुटाते रहे। फतेहपुर तहसील में अनहोनी की आशंका से निपटने के लिए एसडीएम पंकज सिंह और क्षेत्राधिकारी योगेश कुमार देर शाम तक डटे रहे। मतगणना की प्रक्रिया संपन्न होने के बाद जिन प्रत्याशियों का रिजल्ट निकल कर आया सभी की आंखें डबडबाईं थीं। किसी की आंखों के पानी जीत के लिए मिले जनादेश को सलाम कर रहे थे। तो किसी की आंखें स्व समीक्षा के पानी से भर आईं थीं। रविवार एक नए इतिहास की संरचना करने को आतुर था। जैसे ही सुबह की किरणें जमीन पर पड़ीं और लोग जागे तो इस उम्मीद के साथ कि आज की सुबह एक नया इतिहास स्थापित करेगी। जागने के साथ हर गली, चौक-चौराहे पर लाक डाउन होने पर भी हलचल देखेने को मिली। वही प्रत्याशी व उनके समर्थकों की सैकड़ों की तादाद से भी ज्यादा भारी भीड़ जुटी रही पुलिस के आंखों के सामने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती रही हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस प्रशासन कड़ी मशक्कत के चलते भीड़ को तितर-बितर किया। करोना काल के चलते मीडिया कर्मी मतगणना स्थल पर ना के बराबर दिखाई दिए, मतगणना स्थल पर मौजूद लोगों में एसडीएम पंकज सिंह क्षेत्राधिकारी योगेंश कुमार विकास खंड अधिकारी हेमंत कुमार थाना प्रभारी संजय मौर्य सहित पुलिस प्रशासन व राजस्व के अधिकारी व कर्मचारीगण मौजूद रहे।