जब देश की सरकारें फेल हो गई तो सिखों ने आगे आकर कोरोना काल में मानवता की रक्षा की: मनजिंदर सिंह सिरसा

जब देश की सरकारें फेल हो गई तो सिखों ने आगे आकर कोरोना काल में मानवता की रक्षा की: मनजिंदर सिंह सिरसा

जिस निशान साहिब को देशद्रोहियों का बताते थे, आज जान बचाने के लिए निशान साहिब ढूँढ रहे हैं लोग

नई दिल्ली, 30 अप्रैल (मनप्रीत सिंह खालसा): दिल्ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष स. मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा है कि जब देश की सरकारें फेल हो गईं तो उस वक्त सिखों ने आगे आकर लोगों को कोरोना की महामारी से बचाया है।
आज यहां दमदमा साहिब में कमेटी द्वारा लगाए गए ऑक्सीजन के लंगर का जायज़ा लेने के मौके पर स. सिरसा ने कहा कि लाल किला पर निशान साहिब फहराने पर सिखों को गद्दार बताने वाले आज आ कर देख लें कि यह सिख गद्दार किस प्रकार मानवता की रक्षा कर रहे है। उन्होंने कहा कि आज लोग अपनी जान बचाने के लिए निशान साहिब ढूंढते फिर रहे हैं, जब मुसीबत के मारे लोगों को निशान साहिब दिख जाता है तो उन्हें हौंसला हो जाता है कि यहां सिख होंगे जो ऑक्सीजन का लंगर व अन्य लंगर लगा कर हमारी रक्षा करेंगे।
दिल्ली गुरूद्वारा कमेटी के अध्यक्ष ने कहा कि पंथ महाराज के निशान साहिब सदैव लहराते रहेंगे और सिख इस दुनिया की रक्षा व मानवता की सेवा करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि आज सिखों ने देश व दुनिया को दिखा दिया है कि चाहे हमारे बारे में जितना चाहे दुष्प्रचार किया जाए मानवता की रक्षा के लिए हमें अपने गुरू साहिबान द्वारा दर्शाए मार्ग पर चलना है। यह सिख कौम गुरू साहिब के आर्शीवाद से मानवता की सेवा कर रही है और सदैव करेगी तथा ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन के लंगर लगा कर लोगों की जान बचाएगी। उन्होंने सिखी को बदनाम करने वाली मीडिया को भी आकर यह सेवा दिखाने का निमंत्रण दिया।