अफसरों की हठधर्मिता की वजह से अंतिम समय में पत्नी से दो बातें ना कर पाया पंचायत सफाई कर्मी

कैंसर से पीडित पत्नी को छोडकर चुनावी ड्यूटी करने गया था पति

पति की अनुउपस्थिति में सफाई कर्मी की पत्नी ने तोडा दम, ड्यूटी कटवाने को लेकर दर दर भटकता रहा कर्मी

सफाई कर्मचारियों में खासा आक्रोश, मतगणना के बाद सफाई कर्मचारी संघ उठायेगा मुददा

कासगंज। जनपद में अफसरो की हठधार्मिता के चलते एक पंचायत सफाई कर्मी की कैंसर पीडित पत्नी ने दम तोड दिया।बताया जा रहा सफाई कर्मचारी ने पत्नी की बीमारी का हवाला देकर अफसरों से चुनाव ड्यूटी कटवाने की गुहार लगाई थीए लेकिन किसी अधिकारी ने उसे छुटटी नहीं दी। पति की अनुउपस्थिति में पत्नी ने दम तोड दिया। जिससे पंचायत सफाई कर्मचारी संघ मैं खासा आक्रोश है।
कैंसर पीडित मृतका महिला का पति कमल सिंह सफाई कर्मचारी, ग्राम पंचायत स्माइलपुर, विकास खंड सोरों जनपद कासगंज में तैनात है।उसकी �पत्नी राजेश्वरी के लंबित �कैंसर की बीमारी से जंग लड रही थी। बताया जा रहा है कि बीमारी के सारे कागज दिखाकर और चार नाबालिग बच्चो को लेकर निर्वाचन ड्यूटी कटवाने के लिए दर-दर भटकता रहा, लेकिन किसी भी सक्षम अधिकारी ने पीड़ित की एक नहीं सुनी और मजबूरन सफाई कर्मचारी को निर्वाचन ड्यूटी विकास खंड अमांपुर के �प्रावि समसपुर डेंगरी पर करनी पड़ी। जहां से सफाई कर्मचारी कमल सिंह के घर सलेमपुर बीवी, विकास खंड सोरों, की दूरी लगभग 45 किलोमीटर थी और निर्वाचन ड्यूटी से वापस आते समय 26 अप्रैल दिन सोमवार की रात लगभग आठ बजे कमल सिंह की पत्नी राजेश्वरी ने देखभाल के अभाव में दम तोड दिया।अधिकारियों की हठधर्मिता �और सफाई कर्मचारियों के प्रति �दुर्व्यवहार की वजह से अंतिम समय में पत्नी राजेश्वरी से दो बातें भी ना कर सका सफाई कर्मचारी। जिससे सोरों के सफाई कर्मचारियों में भारी रोष व्याप्त है साथ ही �उ०प्र० पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ शाखा कासगंज भी उक्त घटना पर शोक व्यक्त करते हुए सभी लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की घोर निन्दा करता है। मतगणना के बाद जल्द ही इस प्रकरण के संबंध में उच्च अधिकारियों से संघ शाखा कासगंज के पदाधिकारी भेंट कर वार्ता करेगा।