मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले के खाचरौद तहसील के गाँव गेहू उपार्जन केंद्र सायलो हुआ फेल 

मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले के खाचरौद तहसील के गाँव गेहू उपार्जन केंद्र सायलो हुआ फेल

सोसायटीया कि गई शुरू

मशीनीकरण हुआ फेल

खाचरौद तहसील में गेहू उपार्जन को लेकर बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा हें बता दे कि गेहू उपार्जन खरीदी को लेकर सरकार द्वारा मशीनीकरण के माध्यम से ठेकेदारों द्वारा सायलो केंद्र खोला गया जिसमे लगभग 55गांव को जोड़ा गया था । और बताया जा रहा था कि मशीनों के द्वारा बड़ी मात्रा में और फुर्ती से काम पूरा होगा और किसानों को भी कोई असुविधा का सामना नही करना पड़ेगा लेकिन यहा तौ इसका विपरीत परिणाम देखने को मिला । जो भी सायलो केन्द्र पर मशीने लगाई गई हें उनमे बार बार तकनीकी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा हेंऔर किसानों को कई दिनो तक केंद्र पर रुकना padt इसी समस्याओं के चलते किसानो ने अपनि समस्याओ को उच्च अधिकारीयो और विधायक तक पंहुचाई जिसे मीडिया के माध्यम से भी अवगत कराया गया और निम्न समस्याओ को देखते हुए सायलो केंद्र में गांव कि कमी कर पुनः सोसायटी केन्द्रों का संचालन करने का निर्णय लिया गया और इसी के चलते ग्राम घिनोदा में भी आज खरीदी केंद्र का शुभारंभ किया गया ! जिसमे पूजन पाठ कर कांटे को शुरू किया गया लेकिन आज कोई भी गेहू खरीदी नही कि गई

सायलो केंद्र जीरमीरा से अलग कि गई सोसायटी

घिनौदा , बंजारी , बटलावदी , बेहलोला , नापाखेड़ी

ऐक सोसायटी में नो दस गांव जोड़े गये और इन गांव कि खरीदी आज से शुरू

घिनोदा सोसायटी केंद्र में जोड़े गये गांव

घिनोदा , कंचन खेड़ी , कोटलाना , फर्नाखेड़ी , मीण , रामनगर , चंदौडिया , दीवेल , धतूरिया ,

विधायक दिलीप गुर्जर ---सरकार ने जल्दी कार्य होने को लेकर इस प्रकार के सायलो केंद्र को शुरू किया गया था लेकिन मशीनीकरण फेल रहा ! वर्तमान सरकार कि मंशा अनुरूप कार्य नही हुआ हें और सरकार ने जिन ठेकेदारों को कार्य दिया गया हें उनसे टारगेट नही लिया गया और मशीनों के सिस्टम को नही देखा गया था ! और आश्वासन देते हुए कहा कि जल्दी ही किसानो को हो राहत मिलेगी और गेहू कि तूलाइ कि जाएगी..

दिलीपसिंह गुर्जर विधायक नागदा खाचरौद