बाल गंगाधर तिलक ने कलम से छेड़ी अंग्रेजो के खिलाफ जंग: रमेश पाटीदार

डूंगरपुर। एनआरआई बिजनेसमैन व समाजसेवी रमेश कुमार पाटीदार ने स्वतंत्रता सेनानी बाल गंगाधर तिलक की पुण्यतिथि पर उन्हें याद करते हुए नई पीढ़ी को उनके जीवन का अनुसरण करने के लिए कहा। पाटीदार ने बताया कि तिलक ने मराठी में 'मराठा दर्पण' और केसरी नाम से दो दैनिक अखबार शुरू किए, जिसे लोगों ने खूब पसंद किया। तिलक अखबार में अंग्रेजी शासन की क्रूरता और भारतीय संस्कृति के प्रति हीन भावना की खूब आलोचना करते थे। अखबार केसरी में छपने वाले उनके लेखों की वजह से उन्हें कई बार जेल भेजा गया। भारत के लोगों की हालात में सुधार करने और उन्होंने पत्रिकाओं का प्रकाशन किया। वह चाहते थे कि लोग जागरूक हों। देशवासियों को शिक्षित करने के लिये शिक्षा केंद्रों की स्थापना की।